क्या उल्टा चलने से घुटने मजबूत होते हैं? ये बात कितनी सच है स्टडी आपको बता देगी

पिछड़े चलने के लाभ: फिट और एक्टिव रहने के लिए वॉकिंग हमेशा से ही एक अच्छा एक्सरसाइज माना जाता रहा है, कोई व्यक्ति किसी भी तरह का वर्कआउट ना करे और सिर्फ रोजाना 15 से 20 मिनट वॉक कर ले तो उसके लिए यही कारगर साबित हो सकता है. लेकिन क्या आपने कभी रिवर्स डायरेक्शन में वॉकिंग किया है? या इससे जुड़े फायदे के बारे में जानते हैं, अगर नहीं तो आज हम आपको इसके फायदे बता रहे हैं.

रिवर्स वॉकिंग को लेकर स्टडी में हुआ खुलासा

एक स्टडी के मुताबिक रिवर्स डायरेक्शन में दौड़ने या चलने से अच्छा कार्डियो एक्सरसाइज हो जाता है, इसके साथ ही यह वजन घटाने में भी मदद करता है. स्पोर्ट्स मेडिसिन के इंटरनेशनल जर्नल में छपी रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है.जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक जिन लोगों को घुटने में दर्द है या चोट लगी है, वह रिवर्स वॉकिंग का उपयोग करके दर्द में राहत पा सकते हैं, क्योंकि इस तरह चलने से आपके घुटने पर कम दबाव पड़ता है. एक अन्य स्टडी में पाया गया है कि रिवर्स या बैकवर्ड रनिंग से घुटनों की पुरानी चोट में भी आराम मिलता है. आप भले ही इसे मजाक समझे लेकिन जर्नल ऑफ फिजिकल थेरेपी साइंस में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार रिवर्स वॉकिंग से संतुलन में सुधार होता है.


पैरों को बताना है मजबूत: सामान्य तौर पर हम आगे की ओर चलते हैं जिससे हमारे पैर के पिछले हिस्से में मौजूद मांसपेशियों का इस्तेमाल नहीं हो पाता है, इसलिए जब आप रिवर्स वॉकिंग करते हैं तो वो मांसपेशियां भी गति में आ जाती है और आपके पैर मजबूत हो जाते हैं. इसके अलावा अगर आप कमर दर्द से छुटकारा पाना चाहते हैं तो हर रोज कम से कम 15 मिनट रिवर्स वाकिंग करें.

कैलोरी बर्न करने में कारगर : बैकवर्ड जॉगिंग या वॉकिंग करने से आप सामान्य चलने से अधिक कैलरी बर्न करते हैं, जिससे वेट लॉस में भी मदद मिलता है.

मानसिक स्वास्थ होता है बेहतर: उल्टा चलने से सिर्फ शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी आप सेहतमंद होते हैं.जब आप उलटा चलते हैं तो इससे आपके शरीर को अपने समन्वय को बनाए रखने के लिए चुनौती मिलती है.ऐसी स्थिति में आपका माइंड आप को संभल कर चलने देता है, जिससे आपको एंग्जाइटी सही होने के साथ ही कई अन्य लाभ मिल सकते हैं.

किन लोगों को नहीं करना चाहिए रिवर्स वॉकिंग

गर्भवती महिलाओं, बुजुर्ग  स्ट्रोक के रोगियों, या जिनके  खराब संतुलन और समन्वय है, उन्हें ये नहीं करना चाहिए या ऐसा शुरू करने से पहले अपने चिकित्सक की स्वीकृति लेनी चाहिए।

क्या सावधानी बरतें?

  • अगर आप ट्रेडमिल का उपयोग कर रहे हैं तो इसे धीमी गति से करें नहीं तो आप फिसल कर गिर सकते हैं.
  • अगर आप घर के अंदर रिवर्स वॉकिंग कर रहे है तो यह सुनिशचित करें की आस कोई फर्नीचर ना हो जिससे टकराने का डर हो.
  • एड़ियों को सुरक्षित रखने के लिए रिवर्स वॉकिंग से पहले जूते पहनना जरूरी है.
  • अगर आप बाहर कहीं उल्टा चलना शुरू कर रहे हैं, तो यह भी ध्यान रखें कि आपके रास्ते में कोई व्यक्ति, जानवर या गड्ढा ना हो जिससे आप चोटिल हो जाएं.

यह भी पढ़ें: Heart Attack Silent Symptoms: सीने के तेज दर्द के अलावा बड़े नॉर्मल होते हैं हार्ट अटैक के लक्षण, ना करें अनदेखा करने की भूल

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: