सुप्रीम कोर्ट ने स्पाइसजेट, मारन को दी विवाद सुलझाने की सलाह

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने स्पाइसजेट और कलानिधि मारन के बीच शेयर ट्रांसफर विवाद को सुलझाने का सुझाव दिया है।

विवाद के तहत स्पाइसजेट कलानिधि मारन को 600 करोड़ रुपये की पेशकश कर रही है। हालांकि, कलानिधि मारन 600 करोड़ रुपये का ब्याज मांग रहे हैं जो कि 300 करोड़ रुपये होगा।

CJI ने NV रमना मामले की कार्यवाही A12 तक स्थगित की और स्पाइसजेट को ब्याज देने पर विचार करने की सलाह दी

कलानिधि मारन स्पाइसजेट के प्रमोटर थे। स्पाइसजेट और मारन के 2015 से तबादले पर विवाद चल रहा है, जब केएएल एयरवेज ने 2 रुपये टोकन के लिए स्पाइसजेट में अजय सिंह को 58.8% हिस्सेदारी हस्तांतरित की थी।

समझौते के अनुसार, केएएल एयरवेज और मारन को रिडीमेबल वारंट जारी करना था और उनमें से प्रत्येक के पास स्पाइसजेट में निवेश किए गए 679 करोड़ रुपये का प्रेफरेंस शेयर (इक्विटी) था। लेकिन इस संबंध में विवाद के चलते मामला हाईकोर्ट तक चला गया।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: