50 की उम्र पार करने वाली महिलाओं को करना चाहिए शीर्षासन, होंगी कई समस्याएं दूर

बढ़ती उम्र में कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं. जैसे ही 50 की उम्र पार होती है तो शरीर को कुछ न कुछ बीमारी लग ही जाती है और जोड़ो के दर्द के साथ ही चेहरे की खूबसूरती भी खत्म होने लगती है. तो ऐसे में विशेषज्ञ हमेशा सलाह देते हैं कि बढ़ती उम्र के साथ योग करना बहुत जरूरी हो जाता है क्योंकि योग से अपका शरीर स्वस्थ्य रहता है और साथ ही शरीर का लचीलापन बना रहने के साथ चेहरे पर भी झुर्रियां और अनेक तरह की समस्यायें नहीं होती हैं. तो इन योगासनों में शीर्षासन 50 की उम्र पार कर लेने वाली महिलाओं को जरूर करना चाहिए जिससे उनके चेहरे और शरीर पर उम्र का प्रभाव न दिखाई दे तो आइये जानते है कैसे करते है शीर्षासन और क्या हैं इसके फायदे.

शीर्षासन-
शीर्षासन चेहरे की खूबसूरती को बढ़ाने में बहुत फायदेमंद है. इसके अभ्यास से आपके चेहरे में खून की आपूर्ति सही तरीके से होने लगती है, साथ ही शीर्षासन को नियमित रूप से बहुत दिनों तक किया जाए तो बाल के झड़ने को रोका जा सकता है. इस आसन के अभ्यास से ब्रेन वाले हिस्से में खून का प्रवाह बहुत आसान हो जाता है.

इस तरह करें शीर्षासन-

सबसे पहले वज्रासन मुद्रा में घुटनों पर बैठ जाएं और अपने दोनों हाथों की अंगुलियों को इंटरलॉक कर लें और उन्हें जमीन पर बिछी चटाई पर रखें.

उंगलियों को इंटरलॉक करने के बाद हथेली को कटोरी के आकार में मोड़ें और धीरे से अपने सिर को झुकाकर हथेली पर रखें.

इसके बाद धीरे-धीरे अपने दोनों पैरों को ऊपर उठाएं और एकदम सीधा रखें. पैरों को ऊपर उठाने के लिए आप शुरुआत में दीवार या किसी व्यक्ति का सहारा ले सकते हैं.

इस दौरान नीचे से ऊपर तक पूरा शरीर बिल्कुल सीधा होना चाहिए, शरीर का संतुलन अच्छी तरह से बनाए रखें.

इस मुद्रा में आने के बाद 15 से 20 सेकेंड तक गहरी सांस लें और कुछ देर तक इसी मुद्रा में बने रहें.

अब धीरे-धीरे सांस छोड़ें और और पैरों को नीचे जमीन पर वापस लाएं.

इस आसन को तीन से चार बार दोहराएं.

शीर्षासन से होते हैं ये फायदे-

यह मस्तिष्क की ओर ब्‍लड के फ्लो और ऑक्सीजन की आपूर्ति को बढ़ाता है. आपके मस्तिष्क की कोशिकाओं, चेहरे की केशिकाओं और बालों के रोम को उत्तेजित करता है.

यह योग आपकी संज्ञानात्मक प्रतिक्रियाओं में मदद करता है, मेमोरी, समन्वय और एकाग्रता में सुधार करता है.

इसे करने से चेहरे की केशिकाओं को बढ़ावा मिलता है यह आपके चेहरे को नेचुरल और जवां ग्‍लो देता है.

स्कैल्प में बेहतर ब्लड सर्कुलेशन के लिए बालों के रोम को उत्तेजित करता है जिससे बालों का विकास होता है और उनका झड़ना कम होता है.

नीचे देखें स्वास्थ्य उपकरण-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलकुलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: